‘जरा सी दिल में जगह तू’ कहकर पूरा दिल ही लूट लिया करते थे Singer KK

Bollywood के मशहूर Singer KK का मंगलवार रात को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया. इनकी उम्र अभी मात्र 53 साल ही थी. ताजा मिली जानकारी के मुताबिक केके रात को कोलकाता के नजरूल मंच में एक संगीत कार्यक्रम में वह अचानक गिर पड़े. इसके बाद उन्हें तुरंत कलकत्ता मेडिकल रिसर्च इंस्टीट्यूट लाया गया,लेकिन डॉक्टर उन्हें बचा नहीं सके. केके के यूं अचानक निधन से उनके फैंस टूट चुके हैं.

केके के गाने उनके जाने के बाद भी लोगों के दिमाग में घर करके बैठे हुए हैं. उनका संगीत लोगों का दिल जीत लिया करता था. उनके गमों को लूट लिया करता था और उसमें खुशियां भर दिया करता था.

केके (KK) कोई छोटा-मोटा नाम नहीं थे इंडस्ट्री के. इनकी जवानी दिल्ली की थी, शोहरत मुंबई वाली और आखिरी में शांति मिली कोलकाता में. इनका पूरा नाम था कृष्णकुमार कुन्नथ मगर लोग इन्हें केके ना से ही जाना करते थे. केके का मानना था कि अगर आप खाना बना सकते हैं दूसरों के लिए तो आप एक अच्छे गायक बन सकते हैं. केके के अनुसार दूसरों के लिए खाना बनाने से ज्यादा निष्कपट काम कोई और था ही नहीं.

उनका मानना था कि संगीत भी उस तरह ही निष्कपट काम है. वो कहते थे कि मेरा संगीत ही मेरी रसोई हैं. यहां मैं स्वादानुसार बहुत कुछ डालकर अलग-अलग पकाता हूं. यही मेरा सुकून है. फिल्हाल बीती रात केके ने हमारा और दुनिया दोनों का ही साथ छोड़ दिया है. केके का निधन भी उनके प्यार स्टेज पर गाना-गाते ही हो गया. उनके फैंस के दिलों में वो अपने संगीत के जरिए हमेशा ही जिंदा रहेंगे.

बचपन से कलाकार थे KK

दो साल की ही उम्र में केके ने पहली बार मंच पर संगीत पेस किया था. उनके घर में सब के सब ही संगीत के पुजारी थे. इनकी मां भी गायक हुआ करती थीं तो पिता संगीत के शौकीन थे. इनकी नानी भी संगीत में एक्सपर्ट थीं. केके के अंदर किसी भी राग को सुनकर उसे तुरंत पकड़ कर गाने की शानदार काबिलियत थी.

दिल्ली में बीती सारी जवानी KK की

इनका जन्म साल 1968 को हुआ था 23 अगस्त वाले दिन. इनके माता-पिता एक हिंदू मलयाली परिवार से थे. केके ने अपनी शुरुआती पढ़ाई सेंट मैरी स्कूल दिल्ली से की थी. बाद में उन्होंने दिल्ली विश्वविद्दालय से अपना स्नातक पूरा किया. 1991 में उन्होंने अपने बचपन के प्यार ज्योति से शादी रचाई. उनके नकुल कृष्ण कुन्नाथ बेटा और एक बेटी है.

आपको जानकर हैरानी होगी कि जब केके महज 4 साल के थे तभी वो 11 भाषाओं में 3500 जिंगल गा चुके थे. जिस वजह से वो बॉलीवुड में आने से पहले ही फेमस हो चुके थे. इन्होंने संगीत किसी से भी खीखा नहीं था.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by KK (@kk_live_now)

आपको जानकर हैरानी होगी कि जब केके महज 4 साल के थे तभी वो 11 भाषाओं में 3500 जिंगल गा चुके थे. जिस वजह से वो बॉलीवुड में आने से पहले ही फेमस हो चुके थे. इन्होंने संगीत किसी से भी खिखा नहीं था.

गुलजार के माचिस (1996) के गीत ‘छोड़ आए हम वो गलिया’ और ‘आवरापन-बनजारपन गाना काफी हिट हो हुआ था. केके ने ‘हम दिल दे चुके सनम’ (1999) के पॉपुलर गाने ‘तड़प तड़प के इस दिल से आह निकलती रही’; से प्रसिद्धी मिली. बाद में शाका लाका बूम बूम, जस्ट मोहब्बत, कुछ झुकी सी पालकें, काव्यांजलि, हिप हिप हुर्रे जैसे कई टेलीविजन सीरियल में भी उन्होंने गाने गाए थे. केके ने 2008 में हम टीवी पर प्रसारित पाकिस्तानी टीवी शो द घोस्ट के लिए ‘तन्हा चला’ गीत भी गाया था.

error: Content is protected !!