जब स्क्रीनिंग के लिए पहुंचीं जीनत अमान की निकली चीख, बौखला गए थे शशि कपूर, जानिए पूरा माजरा

जीनत अमान (Zeenat Aman) 70 के दशक के राज करने वाली खूबसूरत एक्ट्रेसेस में शुमार हैं. उस जमाने में जब अधिकतर एक्ट्रेस सूट और साड़ी में ही नजर आती थीं, ऐसे में जब जीनत बिकिनी में सिल्वर स्क्रीन पर दिखीं तो हंगामा मच गया. ऐसे एक्ट्रेस की एक झलक पाने के लिए फैंस बेकरार रहते थे.

उस दौर में कई फिल्मों के प्रमोशन-स्क्रीनिंग के लिए हीरो-हीरोइन सिनेमाघर तक पहुंचते थे, क्योंकि आज की तरह सोशल मीडिया का जमाना नहीं था. शशि कपूर (Shashi Kapoor) और जीनत की फिल्म ‘सत्यम शिवम सुंदरम’ खूब चर्चा में रही थी. इस फिल्म की स्क्रीनिंग के दौरान कुछ ऐसा हुआ था, जिससे जीनत बुरी तरह घबरा गई थीं.

बात सन 1978 की है, जीनत अमान और शशि कपूर स्टारर फिल्म ‘सत्यम शिवम सुंदरम’ के रिलीज का वक्त था. दिल्ली के कनॉट प्लेस में फेमस सिनेमा ह़ॉल रीगल हुआ करता था. इस थियेटर में अक्सर मशहूर फिल्मों की स्क्रीनिंग होती थी और एक्टर्स पहुंचते रहते थे.  ‘सत्यम शिवम सुंदरम’ के लिए भी  जब शशि और जीनत सिनेमाघर पहुंचे तो फूलों की बारिश कर स्वागत किया गया. खचाखच भीड़ थी, हर कोई फिल्म की हीरोइन को करीब से देखने के लिए बेताब था.

जीनत अमान को किसी ने काट ली थी चिकोटी
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक भीड़भाड़ वाले इस मौके पर किसी शरारती शख्स ने जीनत को चिकोटी काट ली. जीनत अमान ऐसी हरकत पर दर्द से तिलमिला गईं और चिल्ला पड़ीं. पीछे मुड़कर जैसे ही उन्होंने बदसलूकी करने वाले को देखना चाहा तो वहां से वो शख्स अपनी हरकत को अंजाम दे गायब हो चुका था. जीनत की चीख सुनते ही शशि कपूर को अंदाजा हो गया और गुस्से में उन्होंने भीड़ में मौजूद लोगों को धमकाते हुए कहा था कि ‘काबू में रहिए वर्ना हम अभी के अभी वापस लौट जाएंगे’.

जीनत और शशि कपूर के लिए फैंस की दीवानगी
आयोजकों ने इस मामले की सूचना पुलिस को दी, पुलिस पहुंची भी और बिना टिकट आए लोगों को वहां से हटा कर सड़क के दूसरी तरफ किया. लेकिन दीवाने दर्शक कहां मानने वाले थे, दूर से ही ताली बजाकर, सीटी बजाते, हाथ हिलाते हुए जीनत और शशि के लिए अपनी दीवानगी जाहिर करते रहे. 70 के दशक में स्टारडम का जमाना भी अलग किस्म का था. अब तो सोशल मीडिया और टेक्नोलॉजी, मीडिया मैनेजरों ने स्टार्स की लाइफ को काफी आसान बना दिया है.

error: Content is protected !!