Girija Tickoo कौन थीं, ‘द कश्मीर फाइल्स’ में जिनके साथ हुई ज्यादती को दिखाया गया

Reel Life Sharda Pandit and Real Girija Tickoo: THE KASHMIR FILES जब से रिलीज हुई है तभी से चर्चा का विषय बनी हुई है. इस फिल्म में कश्मीरी पंडितों को मुस्लिमों द्वारा प्रताणित करते हुए दिखाया गया है. फिल्म में ही एक सीन है. जिसे बहुत ही ज्यादा क्रूरता दिखाई गई है. इस सीन में भारतीय सेना के कपड़ों में कुछ लोग पहुंचते हैं. वो भी हथियारों के साथ. घर में बैठे सभी लोगों को वो बाहर निकलवाते हैं. आपको बता दें कि ये भारतीय सेना की ड्रेस पहने हुए आतंकवादी होते हैं.

THE KASHMIR FILES फिल्म में अनुपम खेर के परिवार पर खास फोकस दिया गया है. इन्होंने फिल्म में पुष्करनाथ का किरदार निभाया है. पुष्करनाथ की बहू शारदा को भीड़ के सामने लाया जाता है. उसके कपड़े भाड़ दिए जाते हैं. यह सारी हरकत आतंकी उसके 8 साल के बच्चे के सामने कर रहे होते हैं. जिसके बाद शारदा को जिस मशीन से लकड़ी काटते हैं उसी से काट दिया जाता है.

इसके बाद उसके 8 साल के बच्चे का भी कत्ल कर दिया जाता है. ये सीन जैसे ही दिखाई जाती है दर्शकों के दिल में सन्नाटा पसर जाता है. तो वहीं कुछ लोगों के दिलों में मुस्लिमों के लिए क्रोध बढ़ जाता है. इस पोस्ट में हम आपको वो ही शारदा के बारे में बताने जा रहे हैं. फिल्म वाली नहीं रियल लाइफ वाली.

Girija Tickoo कौन थीं?

फिल्ममेकर्स को अक्सर ही क्रिएटिव लिबर्टी लेनी पड़ती है. विवेक अग्निहोत्री ने भी ली थी. उन्होंने ये बात खुद कबूली भी है. विवेक अग्निहोत्री ने दो-तीन घटनाओं को मिलाकर एक पात्र बनाया था. ऐसे में बताया जा रहा है कि जो कि किरदार शारदा का था वो कश्मीरी पंडित गिरिजा टिक्कू से प्रेरित था. THE KASHMIR FILES में इस किरदार को भाषा सुंबली ने निभाया है.

आपको बताते चलें कि गिरिजा टिक्कू (Girija Tickoo) कश्मीर में ही एक स्कूल की लाइब्रेरियन थीं. टिक्कू की शादी बांदीपोरा के एक कश्मीरी पंडित से रचाई गई थी. उस वक्त की मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक गिरिजा टिक्कू जब इस घटना का शिकार हुईं थी तब उनकी उम्र थी 20 साल. पहले उनका किडनैप किया गया था. फिर बलात्कार और बाद में आरी से काट कर फेंक दिया गया था. इतना ही नहीं गिरिजा के साथ उनके पति के भी हत्या कर दी गई थी.

गिरिजा टिक्कू की भतीजी ने बताई पूरी सच्चाई

गिरिजा टिक्कू की भतीजी सिद्धि रैना ने एक इंस्टा पोस्ट शेयर किया. इस पोस्ट में 1990 के दौरान जो भी घटना उनके परिवार के साथ घटी थी उसका जिक्र किया था. सिद्धि रैना लिखती हैं कि…

THE KASHMIR FILES फिल्म पर्दे पर आ चुकी है. इस फिल्म में उन सभी रातों को दिखाया गया है जो काफी भयानक थीं. जिन रातों को सिर्फ मेरे परिवार ने नहीं झेला है बल्कि हर कश्मीरी पंडित के परिवार ने झेला है.

सिद्धि रैना आगे लिखती हैं कि मेरे पापा की बहन गिरिजा टिक्कू (Girija Tickoo) उस वक्त एक कश्मीर के स्कूल में लाइब्रेरियन थीं. उस दिन गिरिजा टिक्कू अपनी सैलरी लेने गई थीं. जब वो वापस आ रही थीं तो उनकी बस को रोक दिया गया था. उसके बाद जो हुआ वो दर्दनाक है. ये भी पढ़ें: Budhia Singh: 4 साल की उम्र में 65 किमी दौड़कर रिकॉर्ड बनाने वाला आज कहां है?

मेरी बुआ को बाद में एक टैक्सी के अंदर फेंक दिया गया था. उस टैक्सी में पांच आदमी थे. एक आदमी मेरी बुआ के साथ ही काम किया करता था. उस टैक्सी में मेरी बुआ के साथ सारे बुरे काम किए गए उनका बलात्कार भी हुआ. उसके बाद उन्हें आरी से काटकर बेरहम हत्या कर दी गई.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Sidhi Raina (@sidhiraina)

ऐसे में आप लोग कुछ उस घटना के बारे में सोच लें. जहां एक भाई को उसकी बहन को पहचानना था. जबकि न तो भाई और न ही बहन की कोई गलती थी. मेरे परिवार में आज भी उस घटना का जिक्र कोई नहीं करता है क्योंकि सब की रूह कांप जाती है. आज भी मेरे पापा कभी-कभी मुझसे कहते हैं कि वो आज तक शर्म और जिल्लत में जी रहे हैं कि वो अपनी बहन के लिए न्याय नहीं पा सके.

 

error: Content is protected !!